दूसरी लहर में बेकाबू हो रहा कोरोना, लगातार चौथे दिन मरीज मिले से 100 के पार

  • जिला प्रशासन तैयार कर रहा हालात से निपटने की रणनीत
  • कोरोना की दूसरी लहर को गंभीरता से नहीं ले रहे लोग

    मथुरा/ मदन सारस्वत। कोरोना की दूसरी लहर में जिस तेजी से कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं, उतनी सतर्कता जनता के बीच दिखाई नहीं दे रही है। कोरोना को लेकर पिछले कुछ महीने में बरती गई लापरवाही और ढिलाई अब आदत बन गई है।
    जनपद में कोरोना थमने का नाम नहीं ले रहा है। लगातार कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा है वहीं जिला प्रशासन लगातार बैठकों पर बैठक कर संबंधित अधिकारियों पर नाराजगी जता रहा है। पिछले चार दिनों से 100 के पार कोरोना पॉजिटिव मिल रहे हैं। शनिवार को 127 कोरोना केस मिले हैं। इसके साथ ही कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 667 पहुंच गई है। कोरोना की दूसरी लहर गत वर्ष की तुलना में ज्यादा खतरानाक जान पड़ रही है। ऐसे में सावधानी ही कोरोना वायरस से बचाव का है। यदि अभी भी नहीं संभले तो मथुरावासियों को गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं।

    जनपद में यहां मिले कोरोना मरीज
    वृन्दावन 32, मथुरा ब्लॉक 22, एमवीडीए मथुरा 7, गोकुल 6, राया 5, श्रीराधापुरम एस्टेट 5, छाता 4, डैंपियर नगर 4, आनंदपुरी 4, किलोनी 3, राधापुरम एस्टेट 2, मंडी कॉलोनी 2, पुष्पांजलि द्वारिका 2 और सीएमओ ऑफिस में 2, बल्देव 2, गजा पाइसा, औरंगाबाद, कैलाश नगर, कृष्णा नगर, मानस नगर, चन्द्रपुरी, डायविल नगर, जयसिंहपुरा, गीता एंक्लेव, शिवासा एस्टेट, राधासिटी, गोवर्धन, धौलीप्याऊ, राधा इंक्लेव, अड़ुआ, जहांगीरपुर, माधव वाटिका अपार्टमेंट, सुहागपुर, रायपुर और पारसौली, मंडी रामदास, मोतीकुंज क्षेत्र में एक-एक पॉजिटिव मिला, पश्चिम बंगाल, लखीमपुर खीरी और आगरा का 1-1 मरीज मिला।

    ग्राम दघैंटा की नगरिया केंटनमेंट जोन घोषित
    उप जिलाधिकारी महावन कृष्णा नन्द तिवारी ने बताया कि ब्लाॅक बल्देव के अन्तर्गत ग्राम दघैंटा की नगरिया में संक्रमित का मकान एवं पड़ोस के एक-एक मकान के रिहायशी क्षेत्र को कन्टेमेन्ट जोन घोषित किया जाता है। क्षेत्र के अन्दर निवास करने वाले लोगों का घर से बाहर निकलना व आना जाना आदि पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। इस क्षेत्र के अन्दर निवासित कोई भी सरकारी व प्राईवेट व्यक्ति बाहर नहीं जायेगा। आवश्यक बस्तुओं की आपूर्ति करने वाले नियुक्त व्यक्तियों को निर्गत पास धारक ही अपने पहचान पत्र के आधार पर उपरोक्त क्षे में संचारण कर सकते हैं।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,961FansLike
2,768FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles