“यमुना चली ब्रज की ओर” नारे के साथ निकली कलश यात्रा

मथुरा/ मदन सारस्वत। प्रोजेक्ट आत्मनिर्भर के तत्वावधान में खरसाली, यमुनोत्री से प्रारंभ हुई कलश पदयात्रा, यात्रा संयोजक रणजीत महेश पाठक के नेतृत्व में आज टिहरी गडवाल के नैनबाग से अगले पड़ाव यात्रिक आश्रम (जूडो) की ओर प्रस्थान किया तथा यमुना जी के गगनभेदी जयघोष के साथ पैदल यात्री स्थानीय ग्रामवासिओं के साथ कदम से कदम मिला कर आगे बढ़ चले, पैदल यात्रिओं को देख ग्रामीणों का उत्साह देखते ही बनता था | यमुना पुल मंसूरी बेंड, सुन्तरा देवी पर वहां के महंत रोहित मिश्रा एवं दिलीप उनीयाल, अरविन्द उनियाल, मम्नेश उनियाल, प्रवेश उनियाल, आदि यात्रा के स्वागत के लिए सड़क के किनारे घंटों इंतज़ार करते रहे, लोगों ने पुष्प वर्षा और पटुका, मालाएं पहना कर पैदल यात्रिओं का भव्य स्वागत किया तथा नारे लगाये “यमुना चली ब्रज की ओर”|

इसके बाद यात्रा चिलहारा, खर्सोली , भेदियाना , कजसकी , बिन्हार, लाखवाड़ बेंड होए हुए जुडो की तरफ पहुंची , वहां पड़ाव स्थल पर माँ यमुना की महा-आरती , भजन संध्या ब संस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन कर लोगों से यमुना के प्रति जन-जागरण लाने का आवाहन किया |

पदयात्रा में आयुष नारायाण , मौनु पंडित, वसीम खान, संजय चतुर्वेदी, आशीष चतुर्वेदी, जाकिर हुसैन, आयुष मान्यवर, माखन , जुलजूल, धरमदास , मुकेश चतुर्वेदी , विनायक , वैद प्रकाश उनियाल, सुनील उनियाल, सौरभ उनियाल आदि रहे |

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,961FansLike
2,768FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles